31.6 C
Delhi
Tuesday, May 18, 2021

कुछ हमारे बारे में

द् न्यूजिश… शुरुआत है न्यूज में नये अंदाज की, नये नजरिए की और न्यूज के साथ नॉलेज की भरमार की। यहां खबरों की कोई छटपटाहट नहीं होगी, 5 मिनट में 100 फटाफट खबरें नहीं होंगी, दिन भर चीखने चिल्लाने वाली भ्रामक खबरें नहीं होंगी। हम बताएंगे आपको पूरे सप्ताह की उन बड़ी खबरों का इतिहास, वर्तमान और भविष्य जो आपको जानना बेहद जरूरी है। उन खबरों की चीर फाड़ होगी, पड़ताल होगी और खबरदारों की खामोशियों का राज भी खोला जाएगा। पढ़ने वालों के लिए आसान भाषा में धारदार कंटेंट होंगे तो देखने वालों के लिए असरदार विजुअल्स विडियोज भी। हम मिलवाएंगे आपको उन शख्सियतों से जो खामोश रहकर दुनिया बदल देने की सोच संग जीते हैं, जो अपने हाथों से ही हाथों की लकीरें बदल देने की कुव्वत रखते हैं। जो अलग काम नहीं करते बल्कि हर काम को अलग तरीके से कर मिसाल कायम करते हैं। यहां खास खबर होगी आधी आबादी यानी नारी शक्ति, उनके अधिकार, उनके विकास और मिसाल की। 
 
द् न्यूजिश में न्यू क्या है…
 
न्यूजिश स्पेशल और न्यूजिश नॉलेज : द् न्यूजिश की थीम ही है न्यू। यानी न्यूज में न्यू, नॉलेज और डिफरेंट। यहां ब्रेकिंग न्यूज नहीं होगी बल्कि खबरों के पीछे की खबर और खबरों के आगे का असर होगा। वो सब कुछ होगा जो आपको औरों से आगे रखेगा। द् न्यूजिश आपको एक टॉकिंग प्वाइंट देगा, हर चीज को देखने, समझने का नया नजरिया देगा। 
 
स्त्रीमान : हिंदुस्तान में लगभग 60 करोड़ की आबादी महिलाओं की है। आपको याद है कोई ऐसा माध्यम जहां से आधी आबादी की आवाज मुखर हो? शायद नहीं। इसलिए नारी शक्ति के नाम समर्पित है न्यूजिश का स्त्रीमान। जहां खबरें सिर्फ महिला शक्ति, महिला अधिकार, महिला सुरक्षा, महिला विकास और उनकी लाइफस्टाइल और उनके मिसाल की होगी। 
 
न्यूजिश इंस्पिरेशन : इंस्पिरेशन ही है जो मनुष्य को जीने के साथ कुछ कर गुजरने की राह दिखाता है, उनमें जोश भरता है और जिंदगी की नई ऊंचाई तक पहुंचाता है। न्यूजिश इंस्पिरेशन वो प्लेटफार्म देगा जहां आपको ऐसी शख्सियतों की सफलता की सीढ़ियां मिलेंगी, संघर्ष की कहानियां दिखेंगी जो परिवर्तन के लिए जीते हैं, लड़ते हैं और हार कर भी जीतते हैं मगर कभी हार नहीं मानते।
 
यंगिस्तान : यंग इंडिया की बात करते हैं तो सिर्फ यंग जेनरेशन की ही बात नहीं होगी। यंग पॉलिटिक्स, यंग फॉर्मिंग, यंग आइकॉन और यंग थिंकिंग के बारे में भी बात होगी। यहां बताएंगे हर मसले का यंग पहलू भी। 
 
न्यूज व्यूज : हर खबर की खबर होगी। खबर लिखने, दिखाने वालों की खबर होगी। क्यों कोई चर्चा नहीं हुई उस संवेदनशील महत्वपूर्ण खबर पर और क्यों प्राइम टाइम में आ गई गुदगुदाने वाली खबर, इस पर भी चर्चा होगी। नामी गिरामी व्यक्तियों के लेख होंगे।

हमारी टीम

मुकेश महतो

Producer and Editor

द न्यूज़िश के प्रोड्यूसर और एडिटर हैं। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन नई दिल्ली के छात्र रहे हैं। दैनिक भास्कर, अमर उजाला, जी न्यूज़, हरिभूमि जैसे मीडिया ग्रुप्स में काम कर चुके हैं। रूरल जर्नलिज्म, इंस्पिरेशनल स्टोरीज, सेलिब्रिटीज इंटरव्यूज और आदिवासी समाज संस्कृति से जुड़े मुद्दों में रुचि रखते हैं।

निखिल शर्मा

Producer and Editor

द न्यूज़िश के प्रोड्यूसर और एडिटर हैं। इससे पहले दैनिक भास्कर और राजस्थान पत्रिका से जुड़े रहे। देश दुनिया की हलचलों से वास्ता रखते हैं। राजनीतिक पत्रकारिता में खास दखल रहा है। राजनीति, शिक्षा और खेल से जुड़े मसलों में रुचि रखते है। इनके कई इंटरव्यूज और स्पेशल स्टोरीज चर्चित रही हैं।

विवेक दुबे

Producer and Editor

द न्यूज़िश के प्रोड्यूसर और एडिटर हैं। इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्यूनिकेशन नई दिल्ली के छात्र रहे हैं। दैनिक भास्कर, दैनिक जागरण, टाइम्स ग्रुप के साथ काम कर चुके हैं। इतिहास, साहित्य और अर्थ जगत के मसलों में खासी रुचि रखते हैं।